Hindi Thought with meaning ('Pain' is also given by our own ones/'दर्द' हमेशा अपने ही देते हैं)

Hindi Thought, Suvichar, Pain, troubles,


आज का विचार (Thought of the Day in Hindi) 

'दर्द' हमेशा अपने ही देते हैं.......  वरना गैरों को क्या पता कि आपको तकलीफ किस बात से होती है।  (Click to Tweet

Hindi Thought on English Translation -

'Pain' is also given by our own ones..... otherwise, others don't know which thing causing us trouble. 

 हिंदी विचार की व्याख्या- दूसरों के लिए हमें दर्द या परेशानी देना संभव नहीं है क्योंकि वे नहीं जानते हैं कि किन चीजों से हमें दर्द होता है। दूसरी ओर, जो लोग हमें जानते हैं वे उन चीजों के बारे में भी जानते हैं जो हमें पीड़ा और परेशानी का कारण बनती हैं; इसलिए, हमेशा वे हमारे दर्द और परेशानियों के पीछे के लोग होते हैं।

Hindi Thought meaning - It is not possible for others to give pain or trouble to us because they don't know which things cause pain to us. On the other hand, people who know us also know about things which cause us pain and trouble; therefore, always they are the people behind our pains and troubles. 


Check more Hindi Thoughts on Pain

Hindi Thought on Pain 1
Hindi Thought on Pain 2
Hindi Thought on Pain 3
Hindi Thought on Pain 4

No comments:

Post a Comment

Hindi Thought of the Day

The bird sitting on the tree's branch/पेड़ की शाखा पर बैठा पंछी (Hindi Thought)

"पेड़ की शाखा पर बैठा पंछी कभी भी डाल हिलने से नहीं घबराता क्योंकि पंछी डाली पर नही अपने पंखों पर भरोसा करता है।"  Hindi Though...

Popular Posts