Hindi Thought Image (A man is not as unhappy/मनुष्य अपने अभाव से)

Hindi Thought, Image, Quote, unhappy, मनुष्य, अभाव, sacristy, influence,
Hindi Thought Image (A man is not as unhappy/मनुष्य अपने अभाव से)

"मनुष्य अपने अभाव से इतना दुखी नहीं है, जितना दूसरे के प्रभाव से दुखी होता है।"  

Hindi Thought Image English Translation - 

"A man is not as unhappy because of own sacristy as he is unhappy with others influence."

Watch the Hindi Thought Meaning explained by Arvind Katoch



Read the Hindi Thought Explanation in the Video (in Hindi)

अपने जीवन को दूसरों के जीवन से प्रभावित ना होने दें। 


हेलो दोस्तों मैं अरविन्द कटोच आज फिर आपके लिए एक नया हिंदी विचार ले के आया हूँ। इस हिंदी विचार में हम बहुत इंपोर्टेंट बात को समझाने की कोशिश करेंगे कि कैसे हम अपने जीवन में सुखी रह सकते है और यह हिंदी विचार हमें यह बताता है आज जीवन में अधिक तर लोग दुखी क्यों है।  आप जानते है कि दुखी होना कोई अच्छी बात नहीं है।  अगर हम खुश रहेंगे तो हम अपने जीवन को अच्छे से जी सकेंगे।  अगर हम दुखी रहेंगे तो लोग भी हमसे दूर रहेंगे और कोई हमें पसंद नहीं करेगा और क्या होगा हमारे रिश्ते भी ख़राब होंगे। इससे पहले आगे शुरू करू आपसे रिक्वेस्ट करता हूँ कि अगर आपको यह वीडियो पसंद आए तो इसे लाइक, शेयर और सब्सक्राइब करना ना भूलें। धन्यवाद। 

आज में जिस हिंदी विचार के बारे में बात करूँगा वो हमें बताता है ज्यादातर लोग है इसलिए दुखी है क्यों दुखी है क्योंकि वह दूसरों के प्रभाव के कारण दुखी है। वो इसलिए दुखी नहीं है कि उनके पास जीवन में क्या आभाव है क्यों दुखी है कि दूसरे के प्रभाव से। अब इसको हम कैसे समझ सकते है इसको समझना है कि दूसरों के पास क्या ज्यादा है कि दूसरों के पास क्या बेहतर है। किसी पास बहुत बड़ी गाड़ी है, किसी पर बढ़ा घर है, किसी के पास बड़ी नौकरी है। किसी पास पैसे ज्यादा है, किसी का बिजनस बहुत बड़ा है। किसी ने बहुत बड़ी दुकान खुली ली है। उन चीजों के कारण हम दुखी हो जाते है।  जबकि यह इंसान की इर्षा की कैटेगरी में आता है और यह नहीं होना चाहिए। और एक समय में मानसिक बीमारी भी बन सकती है। हमारे पास अगर कोई चीज नहीं है और दूसरे के पास है इसलिए हमें दुखी नहीं होना चाहिए। 

क्योंकि दूसरे का जीवन अलग है, दूसरे के हालात अलग है।  कई बार किसी के पास पिछली कहानी नहीं पता होती है, लोग की, हो सकता है एक इंसान बहुत बड़ी गाड़ी में घूम रहन हो, बहुत बड़े मकान में रह रहा हो, तो हो सकता है उसके पीछे कितने लाखों का कर्जा हो। या फिर उसकी ओर कई तरह की प्रॉब्लमस हो सकती है। इस लिए दूसरों के जीवन को देखकर कभी भी अपने जीवन को प्रभावित न  होने दें। ये अक्सर हो जाता है इंसान में एक कमी होती है इंसान चाहता है कि सब कुछ उसके पास हो. पर होता क्या है कि चीज इंसान को एकदम नहीं मिलती है हमें बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है और अक्सर मेहनत के बाद चीजें मिल भी जाती है वही कुछ चीजें हमे  समय के साथ ही मिलती है।  पर अक्सर इंसान क्या चाहता है कि बहुत जल्दी-जल्दी उन चीजों को चाहता है।  वहीं हमारे साथ के कई लोग होते है वह कुछ पहले से ही अमीर घर से होते हैं उनके हालात हमसे कुछ ज्यादा बेहतर होते है तो उनके पास कई बार हम बड़ी गाड़ी देख लेते हैं जब वह देखते हैं तो उससे हमें ईर्षा हो जाती है। अरे उसके पास यह चीज आ गयी है तो वो चीज से हमें दूर रहना है।  हमें ध्यान सिर्फ जो अपने बस में है वो है अपना जीवन। हमें क्या करना है अपने जीवन को बेहतर बनाना है।  खुशी चीजों से नहीं आती है ख़ुशी किस से आती है, खुशी आपके अपने अंदर है और जो चीजें आपके पास हैं उनका ही आनंद ले। अक्सर इंसान की कमी क्या होती है जो चीज उसके पास आ जाती है वह उसका आनंद लेना छोड़ देता है। अब जो चीज उसके पास नहीं होती है दूसरों के पास होती उसके पीछे भागना शुरू कर देता है।  इस तरह क्या होता है वह पूरी जिंदगी को भागता ही रहता है कभी भी उसको वह चीज नहीं मिल पाती जो वह चाहता था था, क्यों नहीं मिल पाती क्योंकि जैसे वो चीज  हासिल करता है उसको भूल जाता है और नयी चीज के पीछे भागना शुरू कर देता है। अब किसी के पास देखेगा कि उस पास यह कुछ देखेगा यह गाड़ी आ गयी है तो यह लेनी चाहिए। किसी ने इस ढंग  से अपना बिजनेस शुरू कर लिया है तो तुझे यह चीज करनी चाहिए।  तो इस से क्या होता है कि ना तो वह इंसान सफल हो पाएगा ना वो किसी जगह पर सही ढंग से पहुंच पायेगा।  हम अपने लक्ष्य पर तभी पहुंच पाएंगे, अपने जीवन का तभी आनंद ले पाएंगे जब हमें इन चीजों का फर्क नहीं पड़ेगा।  कोई क्या कहता है कोई क्या करता है किसके पास क्या चीज है।  हमारा जो अपना जीवन वे ही बेहतर है।  हम जिस ढंग से अपने जीवन को संभालते है यह भी बहुत ज्यादा बड़ी बात है। सिर्फ एक बड़ी गाड़ी आ जाने से, एक बहुत बड़ा घर आ जाने से, चाहे बहुत बड़ा व्यापार खड़ा कर लेने से आप खुश नहीं रह सकते।  मैं यह नहीं कह रहा हूँ  कि ऐसा न करे। पर मैं सिर्फ इतना कह रहा हूं कि अगर किसी के पास कुछ है और आपके पास नहीं है तो आप दुखी ना हो।  आप अपने जीवन को ऐसा बनाऐ  कि दूसरों की बातों से, दूसरों की चीजों से, वह प्रभावित न हो इतनी जल्दी। अक्सर क्या होता है  बहुत सारे लोग बहुत जल्दी प्रभावित हो जाते है। किसी को देखेंगे अरे वाह क्या बात है हम भी ऐसा करेंगे।  इससे क्या होता है कि वह भटकते रहते है।  अपने जो एक रस्ते  पर चल रहे होते है उस रस्ते को छोड़ पूरी जिंदगी रास्ता ही बदलते रहते है।  और जो व्यक्ति अपना रास्ता बदलता रहेगा वह कहीं नहीं पहुँच पायेगा। वो जो उनके पास होता उसे भी गवा लेते है, अपने रिश्ते को खत्म कर लेते हैं और  एक दुखी इंसान के रूप में जाने जाते है। कोई भी व्यक्ति किसी दुखी इंसान के साथ नहीं रहना चाहता है और ना बात करना चाहता है।  सभी उन्ही लोगों को पसंद करते हैं जो हसमुख होते हैं, जिससे बात करके अच्छा लगे, जिनसे बात करके सकारात्मक परिणाम मिले।  बहुत सारे लोग मिल जाएंगे, आप दस लोगों से मिलोगे आपको 7 लोग एसे मिल जाएंगे जिनके पास दुख ही दुख है सुनाने के लिए। बड़ी मुश्किल से 1-2 लोग मिलेंगे जिनके पास कोई अच्छी बात होगी। पर वह लोग भी इतने व्यस्त होंगे कि उनके पास समय नहीं होगा कि आपसे फालतू की बातें कर सके।  इसलिए इन चीजों से निकलने की कोशिश कीजिए।  किसी की जिंदगी में क्या हो रहा है उससे अपने आप को प्रभावित ना करें क्योंकि उसकी जिंदगी है, उसके खिहालत है। आप नहीं जानते कि उनके पीछे की कहानी। आपको क्या करना है अपनी जिंदगी को जीना है।  जो आपके पास है उसका आनंद लें।  आपके पास साइकिल है तो साइकिल का आनंद ले, स्कूटर है तो स्कूटर का आनंद ले। 

छोटी कार है तो उसका आनंद लें।  आपके पास है तो है इतना वहीं कितने सारे लोग हैं उनके पास यह चीजें भी नहीं है हैं तो इसलिए अगर आपको अपने जीवन को अच्छे से जीना और जीवन में दुखी नहीं रहना है। मैं कहूंगा बिना कारण के दुखी रहने वाली बात है जब हम क्या करते है कि दूसरों के जीवन से अपने आप को प्रभावित कर लेते है। दूसरे लोग बहुत कोशिश करेंगे, कुछ नकली लोग होते है वो नकली हमारे इर्द-गिर्द ऐसा माहौल बना देते है कि हम तो बहुत सफल हो गए।  हमनें  यह कर लिया, हमनें ये चीज हासिल कर ली।  पर असलियत कई बार बहुत अलग होती है।  अगर कोई ऐसा है भी तो जिसने सच में सफलता हासिल कर ली है, बहुत अच्छा हो गया है तो भी इसमें कोई बड़ी बात नहीं है।  उसका अपना जीवन है आपका अपना जीवन। आपके पास जो है वही आपके काम आयेगा।  किसी के पास बड़ी गाड़ी तो आपकी छोटी गाड़ी ही आपके काम आयेगी। आपके जो रिश्तेदार हैं जो आपके सगे संबंधी है, आपके जो दोस्त है, वही आपके काम आएगें।  इसलिए दूसरों की जिंदगी को देख कर कभी भी दुखी ना हों। क्या करें अपनी जिंदगी में खुश रहना सीखे, अगर आपने यह चीज सीख ली तो आपको जिंदगी में कोई भी दुखी नहीं कर पाएगा और ख़ुशी हमेशा आपके साथ रहेगी। इसके साथ में उम्मीद करता हूं कि आप जीवन में दुखी नहीं होंगे और में अपने वीडियो यही खत्म करता हूं।  नमस्ते। 


No comments:

Post a Comment

Hindi Thought of the Day

The bird sitting on the tree's branch/पेड़ की शाखा पर बैठा पंछी (Hindi Thought)

"पेड़ की शाखा पर बैठा पंछी कभी भी डाल हिलने से नहीं घबराता क्योंकि पंछी डाली पर नही अपने पंखों पर भरोसा करता है।"  Hindi Though...

Popular Posts