When "pride" and "stomach" are enhanced/ "घमंड" और "पेट" जब ये दोनों बढतें हैं (Hindi Thought)

pride, stomach, human, embrace, घमंड, पेट,

"घमंड" और "पेट" जब ये दोनों बढतें हैं, तब "इन्सान" चाह कर भी किसी को गले नहीं लगा सकता। 

Hindi Thought English Translation- 

When "pride" and "stomach" are enhanced, then "human" can not even embrace anyone.


No comments:

Post a Comment

Hindi Thought of the Day

The bird sitting on the tree's branch/पेड़ की शाखा पर बैठा पंछी (Hindi Thought)

"पेड़ की शाखा पर बैठा पंछी कभी भी डाल हिलने से नहीं घबराता क्योंकि पंछी डाली पर नही अपने पंखों पर भरोसा करता है।"  Hindi Though...

Popular Posts