People often destroy themselves by becoming pray of false praise (Hindi Thought) अक्सर लोग झूठी प्रशंसा के मोह जाल में फंस कर खुद को बर्बाद तो कर लेते है

criticism, praise, forget, destroy,


"अक्सर लोग झूठी प्रशंसा के मोह जाल में फंस कर खुद को बर्बाद तो कर लेते है पर आलोचना सुनकर खुद को संभालना भूल जाते है I"

"People often destroy them by becoming pray of false praise; however, they forget to improve them by listening to criticism.   


Picture Embed Code -

Picture URL -

To Download Hindi Thoughts Book Click Here

Great Indian Sale (Win up to Rs 4 crore)

Hindi Thought of the Day

The bird sitting on the tree's branch/पेड़ की शाखा पर बैठा पंछी (Hindi Thought)

"पेड़ की शाखा पर बैठा पंछी कभी भी डाल हिलने से नहीं घबराता क्योंकि पंछी डाली पर नही अपने पंखों पर भरोसा करता है।"  Hindi Though...

Popular Posts